क्या आप है प्रेगनेंसी को लेकर है कंफ्यूज ? जानियें घर पर कैसे करे प्रेगनेंसी टेस्ट? pregnancy test at home in hindi

गर्भावस्था हर महिला के लिए एक महत्वपूर्ण स्टेज है, जिस के कारण गर्भावस्था में आपका अच्छे से खयाल रखा जा सकें और आप एक स्वस्थ शिशु को जन्म दे सकें। इस के लिए जरुरी है की सही समय पर गर्भावस्था की जाँच हो पायें जिस से आप सुनिश्चित हो जाये की आप प्रेग्नेंट है। इस लिए आज की इस पोस्ट में हम आपको घर पर गर्भावस्था की जांच या pregnancy test at home के सुरक्षित और आसान तरीकों के बारे में जानकारी देंगे और साथ ही यह भी बताएंगे कि आप pregnancy test at home in hindi कैसे कर सकते हैं। और आप अपने घर पर ही प्रेगनेंसी टेस्ट की मदद से आप यह सुनिश्चित सकती हैं कि आप प्रेगनेंट हैं या नहीं।

pregnancy test at home in hindi
pregnancy test at home in hindi

गर्भावस्था के मानक क्या है?

जब कोई माहिला सेक्सुअली एक्टिव रहती है और अपनी नियमित माह वारी को मिस करती है तो गर्भावस्था की धारना की संभावनाएं बढ़ जाती है। लेकिन इस के लिए जरुरी है की आप के शरीर में HCG हार्मोन्स की मौजूदगी। जो pregnancy में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।

HCG हार्मोन्स क्या है? (pregnancy test at home in hindi )
HCG  हार्मोन का मतलब है ह्यूमन कोरिओनिक गोनाडोट्रोपिन (human chorionic gonadotropin)। गर्भावस्‍था के दौरान भ्रूण के विकास के लिए इस हार्मोन का उत्‍पादन होता है। प्रेग्‍नेंसी का पता लगाने और उसे बनाए रखने के लिए HCG  हार्मोन अहम भूमिका निभाता है। गर्भवती महिलाओं में HCG का स्‍तर बहुत ज्‍यादा रहता है।

Pregnancy test at home कब करें ?

प्रेगनेंसी टेस्ट कब करें? या एक महत्वपूर्ण सवाल इसलिए भी है की, कई महिलाएं यह समझ नही पाती की pregnancy test माहवारी मिस होने के पहले ही करनी चाहिए? या माहवारी मिस होने के बाद? या फिर एक यह भी सवाल रहता है ही गर्भावस्था जाँच का सही और तर्क शुद्ध अनुमान लगाने के लिए pregnancy test का सही समय क्या है? जो काफी हद तक एक्यूरेट रिजल्ट दे सकें।

क्या माहवारी मिस होने के पहले करें pregnancy test?

सही मायने में बताया जाएँ तो आम तौर पर माहवारी (पीरियड) मिस हो जाने के बाद ही प्रेगनेंसी टेस्ट करना सही रहता है। लेकिन, कभी-कभी माहवारी की डेट से पहले भी प्रेगनेंसी टेस्ट किया जा सकता है।  अब आप यह तो जानते ही हो की जब भी कोई महिला प्रेगनेंट होती है तो उसके शरीर में HCG हार्मोन का निर्माण होता है और यह हार्मोन आपके माहवारी की डेट से पहले भी बन सकता है। इसलिए आप पीरियड मिस होने से पहले भी प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। लेकिन, इस समय किये गए टेस्ट का रिजल्ट या अनुमान सही न आने की भी संभावना ज्यादा है। 

माहवारी मिस होने के बाद करें प्रेगनेंसी टेस्ट

सब को  पता है की प्रेगनेंसी या गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर में पहले दिन से ही बदलाव आने शुरू होने लगते हैं और कई बार तो ये बदलाव इतने नॉर्मल होते हैं कि महिला ये समझ ही नहीं पाती है कि ये बदलाव उनकी प्रेगनेंसी की वजह से हो रहे हैं। खास कर जो महिलाएं पहिली बार गर्भावस्था को धारण करने जा रही है वह इस बदलाव को समझ नही पाती। और साथ ही हर महिलाओं में pregnancy के अलग अलग बदलाव देखे जा सकते है जिसे समझना आमतौर पर कठिन हो जाता है।

 इसलिए माहवारी मिस होने के 10 से 15 दिन बाद आप अपना प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकती हैं।  वैसे सटीक परिणाम प्राप्त करने के लिए आपको कम से कम 15 दिन के बाद ही प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए।

यदि आप अपने शरीर में बदलाव  महसुस करते है और अपनी प्रेगनेंसी को लेकर कोई संशय है तो आप हॉस्पिटल में जाकर किसी अच्छी डॉक्टर से चेकअप करवाकर भी अपना प्रेगनेंसी टेस्ट करवा सकती हैं।

 या फिर आजकल किसी भी मेडिकल स्टोर में प्रेगनेंसी टेस्ट किट( pregnancy test kit) आसानी से मिल जाती है। आप किसी भी भरोसेमंद मेडिकल स्टोर से यह किट ख़रीदकर इसकी मदद से घर पर ही स्वयं अपनी प्रेगनेंसी की जांच करके यह कन्फर्म कर सकती हैं कि आप प्रेगनेंट हैं या नहीं।

pregnancy test at home in hindi
pregnancy test at home in hindi

घर पर कैसे करें प्रेगनेंसी टेस्ट? pregnancy test at home in hindi 

आप के आस पास मेडिकल स्टोर द्वारा उपलब्ध प्रेगनेंसी किट की सहायता से आप घर पर आसानी से अपनी प्रेगनेंसी की जांच स्वयं कर सकती हैं। लेकिन इस किट को इस्तेमाल करने से पूर्व किट में दिए गये निर्देशों को अच्छी तरह ध्यान से पढ़ कर उनका पालन करना जरुरी है। इसलिए निचे दिए गये स्टेप्स को ध्यान से पढकर step by step fallow करें।

  • किसी भी प्रेगनेंसी किट का इस्तेमाल करने से पहले उसकी एक्सपायरी डेट यानि प्रयोग की अंतिम तारीख़ को चेक करना जरुरी है। ताकि आप को आप के pregnancy के बारें में सही रिजल्ट्स मिल सकें। 
  • Pregnancy kit का पैक खोलने के बाद जल्द से जल्द इस का प्रयोग होना अनिवार्य है नही तो वह निष्क्रिय हो जायेगी। इसलिए डॉक्टर भी यह सलाह देते हैं कि किट का पैकेट खोलने के बाद 10 घंटे के अंदर-अंदर उसे इस्तेमाल कर लेना चाहिए।
  • प्रेगनेंसी टेस्ट से पहले ज्यादा मात्रा में पानी या किसी भी पेय पदार्थ का सेवन न करें क्योंकि, इससे आपके शरीर में HCG हार्मोन के स्तर पर फ़र्क पड़ता है जिससे आपका प्रेगनेंसी टेस्ट प्रभावित हो सकता है।
  • प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए सुबह का समय सबसे सही रहता है क्योंकि, सुबह के समय प्रेगनेंसी की सूचना देने वाले HCG हार्मोन का स्तर आपके शरीर में सबसे अधिक होता है। इसलिए सुबह के पहले यूरीन या पेशाब के नमूने को किसी छोटे से पात्र में ले लें।
  • इसके बाद जांच किट में दिए गये ड्रॉपर की मदद से अपने यूरीन की कुछ बूंदें test किट पर बने हुए खांचों में डालें।
  •  कुछ समय के अंतराल के बाद  या  यह केन की पांच मिनट इंतज़ार करने के बाद आपको इस पट्टी पर एक या दो हल्की या गहरी गुलाबी लकीरें नज़र आएंगी।
  • प्रेगनेंसी किट पर दिए गये निर्देशों को पढ़कर आप इन लकीरों का मतलब समझ सकती हैं। इन निर्देशों के आधार पर आप टेस्ट के नतीजे का पता लगा सकती हैं और यह जान सकती हैं कि आप प्रेगनेंट हैं अथवा नहीं।
pregnancy test at home in hindi
pregnancy test at home in hindi

CHECK AMAZON

ir?t=sandip1230f7 21&language=en IN&l=li3&o=31&a=B09BLB5QPP - pregnancy test at home in hindi

Pregnancy test किट के निर्देशों के आधार पर क्या होते है नतीजें?

प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए किट पर यूरिन (पेशाब) का नमूना डालने के बाद आपको पांच से दस  मिनट तक इंतज़ार करना होता है। जिसके बाद प्रेगनेंसी किट पर कुछ निर्देश दिखाई देते है, जिस के माध्यम से उन उभरे हुए निर्देशों को देखकर ही आप नतीजों का विश्लेषण कर सकती हैं।

  • यदि टेस्ट करने के बाद प्रेगनेंसी किट पर आपको एक ही हल्की या गहरी गुलाबी लाइन या धारी नज़र आए तो इसका अर्थ है कि आपका टेस्ट नेगेटिव (नकारात्मक) है अर्थात् आप प्रेगनेंट नहीं हैं।
  • यदि किट पर दो हल्की या गहरी धारियां नज़र आएं तो इसका अर्थ है कि आपका टेस्ट पॉजिटिव (सकारात्मक) है अर्थात् आप प्रेगनेंट हैं।
  • यदि किट पर कोई भी धारी या लाइन नज़र न आए तो हो सकता है कि आपकी किट खराब हो या फिर आपने जल्दबाजी में टेस्ट किया हो या फिर नमूना लेने में आपने कोई गड़बड़ी कर दी हो. ऐसे में आप कुछ दिन बाद दोबारा से टेस्ट कर सकती हैं।

Pregnancy test at home in hindi से जुड़े कुछ सवाल 

प्रेग्नेंट होने के बाद क्या पीरियड आता है?

जवाब :- जी नहीं, प्रेग्नेंट होने के बाद ओवुलेशन होना बंद हो जाता है इसलिए प्रेग्नेंट होने के बाद पीरियड्स नहीं आते हैं। कभी-कभी गर्भावस्था की शुरुआत में कुछ महिलाओं को थोड़ी ब्लीडिंग हो सकती है लेकिन, यह पीरियड्स की वजह से नहीं होती है बल्कि आपकी प्रेगनेंसी की वजह से होती है।

प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सही समय क्या है ?

जवाब :- ऊपर दिए गये आर्टिकल में हमने आप को माहवारी के मिस होने के पहले और बाद में pregnancy test के बारे में बताया है। प्रेगनेंसी टेस्ट का निश्चित समय  शारीरिक संबध बनाने के कम से कम 15 दिन बाद आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए।

प्रेगनेंसी किट कहाँ मिलती है?

जवाब :- आप को प्रेगनेंसी किट आप के आसपास किसी भी मेडिकल स्टोर में मिल जाती है आप वहां से ख़रीद सकते हैं या फिर इसे ऑनलाइन भी मंगवा सकते हैं।

क्या प्रेगनेंसी किट एक्यूरेट रिजल्ट दर्शाती है?

जवाब :- जीं हा , यदि आप प्रेगनेंसी किट में दिए गये निर्देशों का सावधानी से पालन करके इसका इस्तेमाल करते हैं तो प्रेगनेंसी किट आपकी प्रेगनेंसी की सही जानकारी देता है और इससे जांच के नतीजे सटीक निकलते हैं।

पहली बार में प्रेगनेंसी टेस्ट का नतीजा नेगेटिव आए तो क्या करें?

जवाब :- यदि आपकी जांच का नतीजा नेगेटिव आता है तो, आप 72 घंटे या 3 दिन के बाद दोबारा से प्रेगनेंसी टेस्ट ज़रुर करें।

घर पर किये गए प्रेगनेंसी टेस्ट का नतीजा आने में कितना समय लगता है?

जवाब :- घर पर प्रेगनेंसी किट की मदद से किये गए प्रेगनेंसी टेस्ट का नतीजा आने में पांच से दस मिनट का समय लगता है।

प्रेगनेंसी किट का इस्तेमाल करने का सबसे सही समय कौन सा है?

जवाब :- सुबह का समय गर्भावस्था की जांच के लिए सबसे अच्छा रहता है क्योंकि, शरीर में इस दौरान HCG हार्मोन का लेवल सबसे अधिक रहता है. अतः इसका परिणाम सही आता है।

संबोधन 

pregnancy test at home in hindi के इस आर्टिकल में हम ने आप को घर पर गर्भावस्था के जाँच का तरीका बतया है जिस में pregnancy test kit के माध्यम से आप घरपर ही परिक्षण कर यह सुनिश्चित कर सकते है की आप प्रेग्नेंट है या नही। लेकिन यदि pregnancy test at home से सुनिश्चित नही कर पा रहे है की आप प्रेग्नेंट है या नही तो आप के लिए आवश्यक है की आप हॉस्पिटल जाकर अच्छे डॉक्टर्स के जरियें अपनी pregnancy test करवाएं।

मेरा नाम SANDEEP DHORE हैं, और मैं CHILD-CARE इस Blog का फाउंडर हूं। साथ ही में कई वेबसाइट के लिए Content Writings भी करता हूं। इस ब्लॉग द्वारा में नवजात तथा छोटे बच्चों के Health, Care, Fashion, Products और Lifestyle से जुड़ी जानकारी देता हूं, ताकि Parents को अपने बच्चों से जुड़े सवालों के जवाब मिल सकें।

Sharing Is Caring:

Leave a Comment