नार्मल डिलीवरी के लिए 10  टिप्स 

नॉर्मल डिलीवरी की इच्छा रखने वाली हर प्रेग्नेंट महिलाओं को जरुरी है की प्रेगनेंसी के दौरान तनाव से दूर रहने की ज्यादा से ज्यादा कोशिश करें।

तनाव से दूर रहें

प्रेगनेंसी के  दौरान  प्रेग्नेंट महिला को नकारात्मक बातों से दूर रहना चाहिए।  किसी भी तरह की negative बाते आप को हतोत्साहित कर सकती है।

नकारात्मक बातों से दूर रहें

प्रेगनेंसी के बारे में ज्यादा से ज्यादा सही जानकारी पाने के लिए आप विशेषज्ञों की सलाह ले। जो आप के भीतर उत्पन्न सवालों के  सही जवाब दे सकते है।

गलत जानकारी से बचें

 नार्मल डिलीवरी के लिए आप को भावनात्मक रूप से मजबूत होने की आवश्यकता होती है, अपनों का साथ प्रेग्नेंट महिला को भावनात्मक रूप में मजबूत बनाता है।

अपनों के साथ रहें

गर्भावस्‍था में शरीर को अधिक फ्लूइड की जरूरत होती है ताकि अधिक खून और एम्‍निओटिक फ्लूइड बन सके, इसलिए  गर्भवती महिलाओं को हमेशा खुद को हाइड्रेट रखना चाहिए।

खुद को हाइड्रेट रखें

प्रेगनेंसी के दौरान वजन बहुत ज्यादा भी नहीं बढ़ना चाहिए। ज्यादा वजन होने से प्रसव के समय परेशानी हो सकती है।

वजन ना बढ़ने दें

प्रेगनेंसी के दौरान नियमित रूप से व्यायाम और योगाभ्यास से नॉर्मल डिलीवरी की संभावना  काफी बढ़ जाती है।

व्यायाम और योगाभ्यास

अगर आप आर्थिक रूप से सक्षम है, और नॉर्मल डिलीवरी की चाहत रखती है आप अपने पास अनुभवी दाई को रख सकती है।

अनुभवी दाई को रखें

पेरिनियल मालिश नार्मल डिलीवरी के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है, इस से नॉर्मल डिलीवरी में आने वाले जोखिम को कम करने में मदद मिलती है।

पेरिनियल मालिश

गर्भावस्था के दौरान  किसी भी तरह की नशीली चीजों का सेवन आप के लिए परेशानी का कारण बन सकता है,

नशीली चीजों का सेवन ना करें

यह थी नार्मल डिलीवरी के लिए 10 टिप्स । अधिक जानकारी के लिए आप Read More पर क्लिक कर सकते हैं।